कोविड की चुनौती के बीच हरिद्वार कुंभ मे मीडिया सेंटर तैयार, सरकार का सर्वाधिक मीडिया सेंटर पर फोकस, कुंभ में पत्रकारों को अब मिलेंगी तमाम सुविधाएं

इस खबर को सुनें

*लाइव प्रसारण के लिए आधुनिक टेंट कॉलोनी बनकर तैयार *

कुंभ को दुनिया के सबसे बड़े ‘धार्मिक सम्मेलन’ की संज्ञा दी गई है। इस बार कुंभ का आयोजन धर्मनगरी हरिद्वार में किया जा रहा है। देश-विदेश के लोगों को कुंभ की सही व सटीक जानकारी प्राप्त हो सके, इसके मद्देनजर हरिद्वार के चंडीटापू नीलधारा पर वर्ल्ड क्लास मीडिया सेन्टर की स्थापना की गई है। इस मीडिया सेन्टर में तमाम मीडिया कर्मियों को लाइव प्रसारण से लेकर अन्य जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। चूंकि कुंभ मेला तकरीबन एक माह तक चलेगा इसलिए मीडिया कर्मियों को तनाव से मुक्त रखने के लिए योगा एवं मेडिटेशन सेन्टर के अलावा ठहरने, भोजन आदि की उच्च स्तरीय व्यवस्थाएं की गई हैं। पूर्व में हुए कुंभ मेलों की तुलना में इस बार मीडिया सेंटर में किये गये इंतजामों को सबसे बेहतर कहा जा रहा है।

कोविड- गाइडलाइन का रखा गया है खयाल

हरिद्वार कुंभ का आयोजन कोविड महामारी की चुनौती के बीच हो रहा है। ऐसे में भारत सरकार की कोविड को लेकर जारी एसओपी का पूरा ख्याल भी मीडिया सेन्टर में रखा जा रहा है। सेन्टर में मीडिया कर्मियों के बैठने के बीच उचित दूरी रखी गई है। जगह-जगह सेनिटाइजर मशीनें लगी हुई हैं। सेंटर को समय–समय पर नियमित रूप से सेनिटाइजेशन कराया जा रहा है।

लाइव प्रसारण के लिए स्टूडियो

मीडिया सेन्टर में लाइव प्रसारण के लिए आधुनिक स्टूडियो भी बनाया गया है। इसके अलावा प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के कर्मियों के लिए 38 अत्याधुनिक कंप्यूटर्स लगाये गए हैं जिनमें मीडियाकर्मियों की आवश्यकतानुसार सॉफ्टवेयर उपलब्ध कराए जायेंगे। इसके अलावा मंच व प्रेस कांफ्रेंस आदि के लिए स्थान मुहैया कराए गए हैं।

संपूर्ण कुंभ में दो हजार पत्रकारों के लिए होगी व्यवस्था

मीडिया सेंटर सहित कुंभ क्षेत्र में पत्रकारों के ठहरने के लिए आधुनिक टेंटों का निर्माण कराया गया है। अभी तक 500 के करीब मीडिया कर्मी सूचना एवं लोक संपर्क विभाग में यहां आने के लिए अपना पंजीकरण करा चुके हैं। टेंटों में मीडियाकर्मियों के रहने व खाने की बेहतर व्यवस्थाएं की जा रही है। वहीं, मोबाइल टॉयलेट्स भी स्थापित किये गए हैं।

योग और चिकित्सा पर ध्यान

मीडिया सेन्टर में पत्रकारों के लिए योगा एवं मेडिटेशन सेन्टर की भी व्यवस्थाएं की गई हैं। यहां पर इच्छुक मीडियाकर्मियों को नियमित रूप से योग और आसन करवाएंगे। इसके अलावा ओपीडी की सुविधा भी दी जा रही है। मीडिया सेन्टर से महज 1 किमी की दूरी पर 150 बेड का अस्पताल तैयार किया गया है जो कि आधुनिक सुविधाओं से लैस है।

समय-समय पर कार्यशाला आयोजित करने का इरादा

मीडिया सेंटर में समय–समय पर कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा। पहली कार्यशाला ‘हरिद्वार कुंभ मीडिया का बदलता स्वरूप, समाधान और चुनौतियां’ विषय पर आयोजित की जाएगी।