प्रशिक्षण के बाद 24 महिला सिपाहियों को यातायात व्यवस्था संभालने के लिए किया रवाना

इस खबर को सुनें

यातायात प्रबंधन में अब महिला कांस्टेबल भी भूमिका निभाएंगी। 40 वीं वाहिनी पीएसी कैंपस में एटीसी में 24 महिला आरक्षियों को प्रशिक्षण के बाद यातायात व्यवस्था संभालने के लिए जिलों में रवाना कर दिया गया। यातायात महिला पुलिस कांस्टेबल कल्पना गहलोत ने प्रशिक्षु कांस्टेबलों को यातायात प्रबंधन के गुर सिखाए। सशस्त्र प्रशिक्षण केंद्र में पुलिस उपमहानिरीक्षक अरुण मोहन जोशी के निर्देश पर एटीसी कैंपस में तीन जनवरी से प्रशिक्षण शुरू किया गया था। सोमवार को समापन अवसर पर पहुंचे आईजी प्रशिक्षण पूरन सिंह रावत ने प्रशिक्षुओं को यातायात व्यवस्था, कर्तव्यों के निर्वहन, व्यवहार एवं तकनीक के संबंध में जानकारी दी। प्रशिक्षुओं को यातायात व्यवस्था में नियक्त कार्मिकों के कर्तव्यों के निर्वहन में व्यवहार,कर्तव्यों की जानकारी एवम तकनीक के प्रयोग के संबंध में जानकारी दी। यातायात पुलिस के जवान को पुलिस विभाग के प्रतिबिम्ब के रूप में बताते हुए कहा कि उनकी कार्यशैली एवम व्यवहार से पूरे विभाग की छवि बनती है। समापन अवसर पर एसपी जीआरपी अर्णव यदुवंशी,उपसेनानायक एटीसी सुश्री अरुण भारती द्वारा मुख्य अतिथि का शाल ओढाकर एवम स्मृति चिन्ह देकर अविवादन किया तथा प्रशिक्षुओं के प्रशिक्षण के सम्बंध में विस्तृत जानकारी दी। संदीप नेगी एच0डी0आई0 द्वारा प्रशिक्षण रिपोर्ट प्रस्तुत की गई, जिसमे बताया गया कि प्रशिक्षण में 24 महिला प्रशिक्षओं द्वारा प्रतिभाग किया गया। इन प्रशिक्षुओं को सी0पी0यू0, यातायात पुलिस, संचार शाखा, एवम विशेषज्ञ फैकल्टी द्वारा महत्वपूर्ण विषयों एवम यातयात व्यवस्था में प्रयुक्त होने वाले विभिन्न तकनीकी उपकरणों एवम यातायात से सम्बंधित कानूनों का प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इसके अतिरिक्त जनपद हरिद्वार में यातायात पुलिस में नियक्त महिला आरक्षी कल्पना गहलोत जो यातायात व्यवस्था के लिए उत्कृष्ट सेवा देने के लिए विभिन्न संस्थानों एवम पुलिस विभाग के अधिकारियों द्वारा सम्मानित हो चुकी है को सुश्री अरुणा भारती, उप सेनानायक द्वारा समारोह में आमंत्रित कर प्रशिक्षुओं को उनसे प्रेरणा लेने हेतु बताया गया तथा महिला आरक्षी कल्पना गहलोत को मुख्य अतिथि द्वारा शाल ओढाकर एवम स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। मुख्य अतिथि द्वारा सभी प्रशिक्षओं को प्रमाण-पत्र वितरित किये, साथ ही समस्त प्रशिक्षक स्टाफ को उत्कृष्ट प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए बधाई दी। कर्यक्रम का संचालन प्रतिसार निरीक्षक नरेश जखमोला द्वारा किया गया। उन्होने बताया कि ये सभी यातायात प्रशिक्षण के पश्चात विभिन्न जनपदों में कुछ दिन व्यवहारिक प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत यातायात प्रबंधन डयूटी में नियुक्त होंगी। समापन अवसर पर निरीक्षक संजय चैहान,श्रीमती भावना कैंथोला,उप निरीक्षक संजय गौड़, रविन्द्र कुमार सहित समस्त ए0टी0सी0 स्टाफ उपस्थित रहा।