56 बीघा भूमि प्रकरण के आरोपी सहित हत्या की धमकी देने वाले को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

इस खबर को सुनें

*दोनों आरोपियों को पुलिस ने जेल भेजा*

बहुचर्चित विवादित 56 बीघा भूमि प्रकरण आरोपी भू माफिया यशपाल तोमर और हत्या की धमकी देने के मामले में फरार उसके साले गजेंद्र को उत्तराखण्ड एसटीएफ ने शनिवार देर शाम गुरुग्राम (हरियाणा) से गिरफ्तार कर लिया है। बीती देर रात ही एसटीएफ की टीम आरोपी भू माफिया को ज्वालापुर कोतवाली ले आई। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ शुरू कर दी है। पिछले दिनों दिल्ली के प्रॉपर्टी डीलर भारत चावला ने बड़े भाई गिरधारी लाल चावला, भतीजे सचिन चावला, भू माफिया यशपाल तोमर एवं एक अन्य साथी आर्यन के खिलाफ कोतवाली ज्वालापुर में मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप था कि उसकी रानीपुर झाल के पास 20 बीघा भूमि है, जिसका बैनामा सगे बड़े भाई के नाम कर देने का दबाव यशपाल तोमर बना रहा था और उसे गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी जा रही थी। डीजीपी के निर्देश पर पूरे मामले की जांच एसटीएफ को सौंप दी गई थी। वहीं कनखल थाने में पूर्व पालिकाध्यक्ष एवं कांग्रेस नेता रहे पारस कुमार जैन के पुत्र तोष कुमार जैन ने भी यशपाल तोमर के खिलाफ घर में घुसकर हत्या की धमकी देने पर मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस के मुताबिक शनिवार को आरोपी भू माफिया यशपाल तोमर के सेक्टर 53 गुरुग्राम हरियाणा में एक रेस्टोरेंट में अपने अधिवक्ताओं के साथ बैठक होने की सूचना मिली थी। इस पर यादवेंदर सिंह बाजवा, एसआई नरोत्तम बिष्ट की अगुवाई में एसटीएफ टीम ने रेस्टोरेंट में रेड कर आरोपी यशपाल तोमर को गिरफ्तार कर गुरुग्राम के थाने में अपनी आमद दर्ज कराई। जिसके बाद यशपाल तोमर को यहां कोतवाली ज्वालापुर लाया गया। एसटीएफ के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपी भू माफिया यशपाल तोमर की गिरफ्तारी प्रॉपर्टी डीलर से रंगदारी मांगने और उसके साले गजेंद्र की गिरफ्तारी कांग्रेसी नेता तोष कुमार जैन के घर में घुसकर हत्या की धमकी देने के मामले में की गई है। दोनों को जेल भेज दिया गया है।