विधायक हरीश धामी पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के लिए उच्चस्तरीय कमेटी गठित, रिपोर्ट का इंतजार

इस खबर को सुनें

पार्टी में अनुशासन बनाए रखने के लिए जो जरूरी होगा वो कदम उठाए जाएंगे-माहरा

कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि विधायक हरीश धामी मामले में एक उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया जा रहा है। कमेटी जो भी फैसला लेगी उसका पालन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कुछ लोग गढ़वाल-कुमाऊं की बात करके राज्य में गलत राजनीति को जन्म देने की कोशिश कर रहे हैं। उनकी कोशिश को नाकाम किया जाएगा। सोमवार को हरकी पैड़ी पर गंगा पूजन के बाद पत्रकारों से बातचीत में करन माहरा ने साफ कहा कि किसी भी सूरत में अनुशासनहीनता बर्दास्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि उन्होंने स्वयं हरीश धामी को मोबाइल पर कई संदेश दिए लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। एक उच्च स्तरीय कमेटी मामले में जांच करेगी। हरीश धामी के बयान और सोशल मीडिया पर जो कुछ उन्होंने डाला है, उसका परीक्षण किया जाना आवश्यक है। कमेटी जांच कर जो भी रिपोर्ट देगी उस पर पार्टी कार्रवाई करेगी। करन ने कहा कि पार्टी में अनुशासन बनाए रखने के लिए जो जरूरी होगा वो कदम उठाए जाएंगे। क्योंकि अनुशासन होना किसी भी दल के लिए जरूरी है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पांच साल उप नेता प्रतिपक्ष रहते हुए उन्होंने विधानसभा में तमाम मुद्दे उठाए। अब वही तेवर राज्य की जनता को सड़कों, गली मोहल्लों में दिखेगा। जिन परेशानियों से लोग जूझ रहे हैं उन्हें उसके लिए वह जागरूक करने का काम करेंगे। हो सकता है लोग शुरू-शुरू में मजाक भी उड़ाएं लेकिन आगे उन्हें बहुत कुछ देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि उनके स्वागत कार्यक्रम में मौजूद विधायकों को लेकर बहुत कुछ गलत कहा गया। जबकि सोमवार को आयोजित बैठक में 15 विधायक शामिल रहे। एक विधायक से उनकी बात नहीं हो पाई है। करन माहरा ने कहा कि गंगा पूजन के दौरान उन्होंने फिरकापरस्त ताकतों के लिए सद्बुद्धि मांगी है और कांग्रेस की ताकत बढ़े, देश के लिए अच्छे काम कर सके। गंगा पूजन के दौरान स्थानीय नेता भी शामिल रहे।