काफी दिनों से चला आ रहा असमंजस हुआ खत्म. मुख्यमंत्री धामी चंपावत से लड़ेंगे चुनाव ?

इस खबर को सुनें

मौजूदा विधायक कैलाश गहतोड़ी ने दिया इस्तीफा

चंपावत से विधायक कैलाश गहतोड़ी आज भाजपा अध्यक्ष समेत अन्य नेताओं के साथ विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण के आवास पर पहुंचे और अपना त्यागपत्र सौंप दिया। इस दौरान विधायक गहतोड़ी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उनके क्षेत्र का चहुंमुखी विकास हो, यही उनके लिए सबसे बड़ी उपलब्धि है।

सीएम बनने के बाद धामी ने पहला दौरा यहीं किया था। जिसके बाद लोगों के फीडबैक और खटीमा से नजदीक होने की वजह से सीएम ये सीट सुरक्षित मान रहे हैं। आपको बता दें कि सीएम धामी के चुनाव हारने के बाद भी पार्टी ने उन्हें उत्तराखंड की कमान सौंपी थी। अब धामी को 6 माह बाद विधायक का चुनाव जीतकर आना है। ऐसे में सीएम के लिए उपचुनाव की तैयारी शुरू हो गई है। चंपावत सीट को लेकर सीएम धामी ने हाईकमान के सामने अपनी इच्छा जता दी है। हाईकमान ने भी सीएम के लिए सबसे सुरक्षित सीट का चयन कर चंपावत को ही फाइनल किया था। हालांकि, चंपावत के विधायक कैलाश गहतोड़ी ने भी सबसे पहले सीएम के लिए सीट छोड़ने की पेशकश की थी, जिस पर अब मुहर लग गई है।