हर की पैड़ी पर अंडों की बिक्री होने पर पूर्व भाजपा विधायक ने जताया आक्रोश, देखिए क्या कहा पूर्व विधायक ने

इस खबर को सुनें

इस तरह के कार्यों में लिप्त लोगों के खिलाफ प्रशासन कड़ी कार्रवाई करें

हरिद्वार। हिंदुओ के विश्वप्रसिद्ध तीर्थ हरकीपौडी क्षेत्र में अंडों की बिक्री पर भाजपा के पूर्व विधायक संजय गुप्ता ने गहरा आक्रोश व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि हर की पौड़ी क्षेत्र में अवैध रूप से की जा रही अंडों व उससे बने खाद्य पदार्थों की बिक्री हिंदुओं की आस्था पर कुठाराघात है। उन्होंने प्रशासन से इस तरह के कृत्यों में लिप्त लोगो के खिलाफ कड़ी कारवाई किये जाने की मांग की है। हर की पौड़ी क्षेत्र में पिछले काफी अर्से से अवैध रूप से अंडे आदि बेचे जाने की बात सामने आ रही थी। कल हर की पौड़ी क्षेत्र में एक ढाबे में अंडे और ऑमलेट बेचे जाने की शिकायत पर गंगा सभा ने करवाई करते हुए उसके ढाबे को वंहा से हटवाया। मगर पुलिस ने कोई करवाई नही की। भाजपा के पूर्व विधायक संजय गुप्ता ने हरकी पौड़ी क्षेत्र में अंडों की बिक्री पर नाराजगी जताते हुए कहा कि नगरपालिका बाइलॉज के अनुसार हरकी पैड़ी सहित पूरे हरिद्वार और कनखल क्षेत्र में मांस, मदिरा और अंडे की बिक्री और सेवन करना पूर्ण रूप से प्रतिबंधित है। मगर इन क्षेत्रों में मांस मदिरा और अंडे की बिक्री और सेवन किया जा रहा है। हरकी पौड़ी क्षेत्र में तो खुलेआम ढाबे पर अंडे और ऑमलेट बेचा जा रहा था। संजय गुप्ता ने कहा कि इस तरह के कृत्यों से हिन्दू संस्कृति और धार्मिक क्षेत्र को कलंकित किया जा रहा है और हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। पूर्व विधायक ने कहा कि नगर पालिका बाइलॉज के अनुसार ही हरिद्वार और कनखल में गैर हिंदुओ का प्रवेश भी प्रतिबंधित है मगर नगर पालिका बाइलॉज की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है और आसामाजिक तत्व लगातार हिन्दू तीर्थ की मर्यादाओं को तार तार कारण में लगे हुए है। उन्होंने कहा कि हिंदुओं की श्रद्धा और आस्था के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नही किया जाएगा। पूर्व विधायक ने प्रशासन से मांग की है कि हर की पौड़ी क्षेत्र में अंडे बेचने वालों पर सख्त करवाई की जाए और हर की पौड़ी क्षेत्र में अवैध मांस मदिरा अंडों की बिक्री के खिलाफ लगातार अभियान चला कर इस तरह के अवैध कार्यों में लिप्त असामाजिक तत्वों के खिलाफ कठोर करवाई की जाए। उन्होंने यह भी मांग की है कि नगर पालिका बाइलॉज के मुताबिक हरिद्वार क्षेत्र में प्रवेश करने वालो का हरिद्वार के प्रवेश द्वार पर जांच कर सत्यापन किया जाए।