बिना अनुमति के विरोध प्रदर्शन कर रहे थे, कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने चार को किया गिरफ्तार अन्य की तलाश जारी

इस खबर को सुनें

भाजपा की प्रवक्ता रही नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में मुस्लिम सेवा संगठन ने किया था विरोध-प्रदर्शन

हरिद्वार। पिछले दिनों ज्वालापुर में बिना अनुमति विरोध-प्रदर्शन करने के मामले में कोर्ट से गैर जमानती वारंट लेने के बाद कनखल पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इन सभी का चालान कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से सभी को जमानत मिल गई। वहीं, मुकदमे में अन्य नामजद आरोपियों की तलाश चल रही है। वीडियो के आधार पर अज्ञात आरोपियों की पहचान भी की जा रही है। बताते चले कि भाजपा की प्रवक्ता रहीं नुपुर शर्मा द्वारा कथित तौर पर पैगंबर को लेकर दिए गए बयान के विरोध में ज्वालापुर क्षेत्र में बीते शुक्रवार को देहरादून के मुस्लिम सेवा संगठन की ओर से विरोध प्रदर्शन किया गया था। जिसमें ज्वालापुर की संस्था अंजुमन गुलामाने मुस्तफा ने भी समर्थन दिया था। इस विरोध प्रदर्शन में सैकड़ों की संख्या में लोग शामिल हुए थे। इस सम्बन्ध मे बिना अनुमति विरोध प्रदर्शन कर राहगीरों को परेशान करने के आरोप में ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी महेश जोशी की ओर से 25 नामजद सहित कुल 60 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। मामले की जांच कर रहे इंस्पेक्टर कनखल मुकेश चैहान ने मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कोर्ट से गैर जमानती वारंट लिए थे। जिसके बाद मुस्लिम सेवा संगठन के अध्यक्ष नईम कुरैशी निवासी धामावाला देहरादून की तलाश में पुलिस टीम जुट गई थी। पुलिस आरोपी को श्रीनगर पौड़ी गढ़वाल से पकड़कर यहां लाई है। इधर,ज्वालापुर अहबाबनगर निवासी गुलबहार कुरैशी, अफजल अल्वी और राशिद अली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। चारों का चालान कर पुलिस ने कोर्ट में पेश किया है, जहां से उन्हें बेल मिल गई। इंस्पेक्टर मुकेश चैहान ने बताया कि जल्द ही अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा। नामजद अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।