सिंगल यूज प्लास्टिक: कौन-कौन सी चीजों पर लगा प्रतिबंध, अब वैकल्पिक व्यवस्था क्या होगी, जानें पूरी खबर

इस खबर को सुनें

व्यापारियों द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक के सम्बन्ध में उठाई गयी कई शंकाओं का मौके पर समाधान

सिंगल यूज प्लास्टिक को प्रतिबन्धित करने के क्रियान्वयन को लेकर व्यापारियों के साथ बैठक
हरिद्वार। मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन की अध्यक्षता में शुक्रवार को मेला नियंत्रण भवन (सीसीआर) में सिंगल यूज प्लास्टिक को प्रतिबन्धित किये जाने के सम्बन्ध में व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों के साथ एक बैठक आयोजित हुई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन एवं एमएनए दयानन्द सरस्वती ने सर्वप्रथम सिंगल यूज प्लास्टिक के अन्तर्गत कौन-कौन से वस्तुयें शामिल की गयी हैं,के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी देते हुये बताया कि इसके अन्तर्गत प्लास्टिक स्टिक के साथ ईयर बड्स,प्लास्टिक स्टिक के साथ गुब्बारे,प्लास्टिक स्टिक के साथ झंडे, प्लास्टिक स्टिक के साथ कैंडी,प्लास्टिक स्टिक के साथ आइसक्रीम, सजावट के लिए पॉलीस्टाइलरीन (थर्माकोल),प्लास्टिक कटलरी जैसे कांटे,प्लास्टिक के चम्मच,प्लास्टिक के चाकू, प्लास्टिक के गिलास, प्लास्टिक का स्ट्रो, प्लास्टिक की प्लेट, प्लास्टिक की ट्रे,मिठाई के डिब्बे, निमंत्रण कार्ड और सिगरेट के पैकेट के चारों ओर फिल्म लपेटना,पैकेजिंग करना, प्लास्टिक स्टिरर्स,100 माइक्रोफोन से कम के प्लास्टिक के पीवीसी बैनर,पालीथिन कैरी बैग, किसी भी आकार,प्रकार, मोटाई एवं रंग के (हैंडल के साथ एवं बिना हैडल के),नॉन वोवन प्रोपलीन बैग, कटलरी आइटम जो थर्माकोल (पॉलीस्टाइरीन) पॉलीयूरेथन स्टारवरोफोम से बने हो, प्लास्टिक के कटोरे,प्लास्टिक के कप, रिसाइकिल प्लास्टिक के पैकेजिंग कंटेनर,चाहे किसी भी आकार,माप,प्रकार,रंग के हो,व जो खाद्य पदार्थ,तरल पदार्थ को ढकने,ले जाने व भण्डारण में उपयोग में होते हैं,वस्तुयें शामिल हैं। उन्होंने कहा कि हमें इन वस्तुओं के स्थान पर वैकल्पिक वस्तुओं जैसे स्टील के गिलास,कांच की बोतल, मिट्टी की बोतल आदि का इस्तेमाल करना चाहिये। उन्होंने कहा कि आगामी कुछ दिनों तक सिंगिल यूज प्लास्टिक के सम्बन्ध में हमारा प्रचार-प्रसार का अभियान चलेगा तत्पश्चात चालान आदि की कार्रवाई चलेगी।

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि पर्यावरण की रक्षा,हरिद्वार को साफ-सुथरा रखने तथा भावी पीढ़ी का ध्यान रखते हुये हमें अपनी आदतों में सुधार लाते हुये प्लास्टिक के कैरी बैग आदि के स्थान पर जूट या कपड़े से निर्मित कैरी बैग का प्रयोग करना चाहिये। बैठक मे उन्होंने व्यापारियों द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक के सम्बन्ध में उठाई गयी कई शंकाओं के सम्बन्ध में मौके पर समाधान किया। बैठक में व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों ने कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक को हतोत्साहित करने में हमारा प्रशासन को पूरा सहयोग मिलेगा। इस अवसर पर सुरेश गुलाटी अध्यक्ष व्यापार मण्डल,प्रवीन कुमार महामंत्री व्यापार मण्डल,अनिरूद्ध भाटी व्यापार मण्डल संरक्षक,विनीत जौली,अरूण, गोपाल प्रधान,सतीश चन्द्र शर्मा, अनूज मेहता, विपिन कुमार गुप्ता,राम अरोड़ा,अजय शर्मा,विष्णु शर्मा,राजन मेहता सहित व्यापारियों के अलावा अधिकारीगण उपस्थित थे।