आमजन की समस्याओं का निस्तारण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता -जिलाधिकारी

इस खबर को सुनें

तहसील दिवस में 84शिकायतों मे 15का मौके पर निस्तारण

हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने कहा है कि आमजन की समस्याओं का निस्तारण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसलिये जनता की कोई भी समस्या हो, उसका निस्तारण व्यक्तिगत रूचि लेकर हल करना सुनिश्चित करे। मंगलवार को तहसील लक्सर में आमजन की समस्याओं के निराकरण हेतु ’’तहसील दिवस’’ के दौरान जिलाधिकारी ने अधिनस्थ अधिकारियों को निर्देश दिए। ’’तहसील दिवस’’ में कुल 81 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिनमें से 15 का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया तथा शेष प्रार्थना पत्रों को प्रकरण के निस्तारण में लगने वाले समय के अनुसार संबंधित विभागों के अधिकारियों को समयबद्ध निस्तारित करने के निर्देश जिलाधिकारी ने दिये। इस मौके पर जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि आमजन की समस्याओं का निस्तारण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसलिये जनता की कोई भी समस्या हो, उसका निस्तारण व्यक्तिगत रूचि लेकर हल करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जनता की कोई भी समस्या हो, उसे ध्यान से सुनें तथा शिकायतों के निस्तारण में गुणवत्ता है या नहीं इसका विशेष ध्यान रखें तथा प्रयास करें कि शासन की मंशा के अनुरूप शिकायतों का त्वरित निस्तारण हो। उन्होंने इस मौके पर पूर्व तहसील दिवस में आई हुई शिकायतों के निस्तारण के सम्बन्ध में भी अधिकारियों से जानकारी ली। तहसील दिवस में आज प्राप्त होने वाली शिकायतों में सड़क व पुलिया की मरम्मत, जाति प्रमाण बनाये जाने, नौकरी में पुनः रखे जाने, जमीन की पैमाईस, वृद्धावस्था पेंशन दिलाये जाने, ई-रिक्शा दिलाये जाने, जमीन पर कब्जा दिलाये जाने, रोड से पानी की निकासी आदि से सम्बन्धित प्रकरण प्राप्त हुये। जिलाधिकारी ने इन सभी पर सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को समयबद्ध ढंग से समस्याओं के निराकरण के निर्देश दिये। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन,अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) पी0एल0शाह,एस0डी0एम0 लक्सर गोपाल राम बिनवाल परियोजना निदेशक विक्रम सिंह, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, मुख्य उद्यान अधिकारी नरेन्द्र यादव, ए0आर0 कोआपरेटिव राजेश, मुख्य शिक्षा अधिकारी के0के0 गुप्ता, सहायक परियोजना निदेशक सुश्री नलनीत घिल्डियाल, समाज कल्याण अधिकारी टी0आर0 मलेठा, जिला पूर्ति अधिकारी मुकेश कुमार, बाल विकास परियोजना अधिकारी सुश्री सुलेखा सहगल, तहसीलदार लक्सर,सुश्री शालिनी मौर्य, चकबन्दी विभाग सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।