आज किसने की, सभी के उत्तम स्वास्थ्य और समृद्धि की कामना

*गंगा का पूजन कर संतों ने की कोरोना वायरस के खात्में की कामना *

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से सबकी सुरक्षा की कामना करते हुए अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष व अन्य संतों ने हरकी पैड़ी पर गंगा पूजन कर मां गंगा से कोरोना महामारी को समाप्त करने व सभी के उत्तम स्वास्थ्य एवं सुख-समृद्धि की कामना की। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष व निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविंद्रपुरी महाराज, निरंजन पीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज,आनन्द पीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरी महाराज ने हरकी पैड़ी पहुंचकर गंगा मैया की पूजा अर्चना की। गंगा पूजन कर संतों ने गंगा मैया से कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रान से देश दुनिया की रक्षा करने की प्रार्थना की। श्रीमहंत रविंद्रपुरी ने कहा कि दो वर्ष से भारत सहित पूरी दुनिया कोरोना महामारी से पीड़ित है। हाल में महामारी से कुछ राहत मिलने पर ओमिक्रान वेरिएंट के रूप में कोरोना का खतरा एक बार फिर बढ़ गया है। उन्होंने सभी से कोविड नियमों का पालन करते हुए मास्क पहनने व शारीरिक दूरी जैसे नियमों का पालन करने की अपील भी की। संतों के हरकी पैड़ी पहुंचने पर गंगा सभा अध्यक्ष प्रदीप झा और महामंत्री तन्मय वशिष्ठ ने सभी का स्वागत किया।


कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन अवश्य लगवाएं- श्री महंत रवींद्र पुरी

श्री निरंजनी रामलीला संस्था की और से चरण पादुका मंदिर में स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से वैक्सीनेशन एवं स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारंभ अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष एवं निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने किया। इस अवसर पर श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि कोरोना महामारी अभी पूरी तरह समाप्त नहीं हुई है। हाल ही में ओमिक्रान वेरिएंट के रूप में कोरोना का खतरा फिर से बढ़ गया है। इसलिए सभी को कोविड नियमों का पालन करते हुए मास्क पहनने के साथ शारीरिक दूरी जैसे नियमों का पालन करना अवश्य करना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ प्रभावी सिद्ध हुई वैक्सीन की दोनो डोज भी सभी को अवश्य लगवानी चाहिए। सरकार लगातार तेजी से वैक्सीनेशन अभियान चला रही है। संस्था के सचिव भोला शर्मा एवं अमित बोरी ने कहा कि कोरोना महामारी बचना है तो वैक्सीन जरूर लगवाएं। समय समय पर स्वास्थ्य जांच भी अवश्य कराएं। मेट्रो अस्पताला के चिकित्सकों द्वारा नाक, कान, दांत, शुगर, बीपी आदि की जांच कर परामर्श भी मरीजों को दिया गया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक को अपने खानपान पर विशेष सतर्कता बरतनी चाहिए। शिविर में मेट्रो अस्पताल के चिकित्सक अमित रावत, अंकुर, राकेश रावत, यश उपाध्याय, जिम्स फ्रांसिस ने मरीजों की जांच की। इस अवसर पर नवीन नौटियाल, मोहित राजपूत ने सहयोग प्रदान किया।