सप्त ऋषि आश्रम में खुला डॉक्टर शिव कुमार स्मृति श्री सनातन धर्म प्राकृतिक चिकित्सालय केंद्र

डॉ शिवकुमार जी महामानव थे -स्वामी देवानंद सरस्वती

श्री सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा पंजाब के दिवंगत अध्यक्ष डॉ शिवकुमार शर्मा की याद में सप्तऋषि आश्रम में डॉक्टर शिवकुमार श्री सनातन धर्म प्राकृतिक चिकित्सा केंद्र खोला गया। केन्द्र का उद्घाटन श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा के सचिव महंत स्वामी देवानंद सरस्वती महाराज ने किया। इस अवसर पर हवन यज्ञ का आयोजन किया गया, जिसमें श्री सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा पंजाब के अंतरिम अध्यक्ष इंद्र मोहन गोस्वामी ,महासचिव डॉक्टर देशबंधु, श्री सनातन धर्म महावीर दल के राष्ट्रीय प्रधान महंत स्वरूप बिहारी शरण,श्री सनातन धर्म शिक्षा समिति के राष्ट्रीय महासचिव डॉ गुरदीप सिंह ,डॉ नंदकिशोर शर्मा, सुभाष घई ,जगदेव सिंह संस्कृत महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ राजेंद्र कुमार गोनियाल, सप्त ऋषि आश्रम के प्रबंधक विनोद सैनी आदि उपस्थित थे। श्री सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा पंजाब के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिवंगत डॉ शिवकुमार शर्मा का भावपूर्ण स्मरण करते हुए महंत स्वामी देवानंद सरस्वती महाराज ने कहा कि शिवकुमार जी महामानव थे उनकी चिकित्सा के क्षेत्र में की गई सेवाओं को कभी भुलाया नहीं जा सकता है उन्होंने 22 वर्षों तक श्री सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा  पंजाब के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर रहकर विभिन्न क्षेत्रों में कई सामाजिक कार्य किए। उन्होंने कहा कि डॉ शिवकुमार शर्मा ने हिमाचल प्रदेश में अपने गृह क्षेत्र पालमपुर में एक बड़ा नेत्र चिकित्सालय खोलकर मानवता का परिचय दिया। इस अवसर पर सभा के अंतरिम अध्यक्ष इंद्रमोहन गोस्वामी ने कहा कि डॉ शिवकुमार शर्मा के विचार हमेशा प्रासंगिक रहेंगे उनके योगदान को कभी नहीं भुलाया जा सकता। सभा के महासचिव डॉ देशबंधु ने कहा कि डॉ शिव कुमार शर्मा का जीवन प्रेरणादाई था वे हमेशा अपने सिद्धांतों के लिए समर्पित रहे। श्री सनातन धर्म महावीर दल के अध्यक्ष महंत स्वरूप बिहारी शरण ने कहा कि डॉ शर्मा का जीवन अनुकरणीय है। कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर नंदकिशोर शर्मा ने किया। इस दौरान सभा के उपाध्यक्ष सुधीर कुमार गुप्ता, श्री मिथिलेश सनातन धर्म इंटर कॉलेज की प्रबंध समिति के सचिव प्रबंधन सतपाल ब्रह्मचारी और प्रधानाचार्य मीनाक्षी शर्मा मौजूद रहे।