धर्म-कर्म: तीन हजार दर्शको के साथ चैयरमेन राजीव शर्मा ने लिया भगवान राम से आशीर्वाद

रामलीला में हुआ भगवान राम और हनुमान का मिलन, सुग्रीव मित्रता, बाली वध का मंचन

हरिद्वार। श्रीरामलीला नाट्य मंचन समिति के तत्वाधान में भेल से-4 में आयोजित श्री राम लीला के नौवें दिन राम सुग्रीव मित्रता बाली वध की लीला का मंचन किया गया। जिसमे लगभग 3 हजार दर्शको से खचाखच भरे प्रांगण में विशेष अतिथि के रूप में शिवालिक नगर पालिका अध्यक्ष राजीव शर्मा जी ने अपनी विशिष्ट उपस्तिथि दर्ज करवा प्रभु श्री राम से आशीर्वाद प्राप्त किया। साथ ही उद्योगपति कपिल मोदी जी प्रभु श्री राम की लीला मंचन में सपरिवार सम्मिलित हुये व प्रभु की लीला का आनन्द उठा बहुत आनन्दित हुये । जिसमे समिति से प्रदीप सैनी, उमेश पाठक, अवधेश सिंह,कैलाश भंडारी,सुशील त्रिपाठी,अजीत सिंह, आशुतोष शर्मा, विद्याभूषण, राजेंद्र मौर्य,पंकज जैन,महेश सैनी,मुख्य पुरोहित मंशा मणि जी व श्रीमति राजेश्वरी देवी आदि द्वारा मुख्य अतिथि का स्वागत कर कलाकारों से परिचय करवाया गया। मुख्य निर्देशक सुशील त्रिपाठी ने बताया कि आज की लीला में प्रभु श्री राम की सुग्रीव से मित्रता , प्रभु श्री राम का बजरंगबली हनुमान से परिचय व बाली वध का प्रसंग दिखाया गया,, जिसमें सुग्रीव अपने शुभचिंतकों सहित पर्वत के शिखर पर विराजमान होते हुए दूर से तपस्वियों को आते देख श्री हनुमान जी को उनका पता लगाने भेजते है, हनुमान ब्राह्मण का रूप धर कर उनसे परिचय जानते ही प्रसन्न हो जाते हैं क्षमा याचना करते हुए उन्हें अपने कंधों पर बैठाकर महाराज सुग्रीव के पास ले जाते हैं। सुग्रीव अपनी व्यथा सुनाते हैं बाली के अत्याचार की बातें करते हैं इसके बाद श्री राम मित्रता का संकल्प लेते हैं और बाली का वध करके सुग्रीव को किष्किंधा का साम्राज्य सौंप देते हैं। हनुमान–राम भेंट, बाली–सुगीव युद्ध लीला के मुख्य आकर्षण रहे। श्रीरामलीला नाटय मंचन समिति द्वारा खेली जा रही लीला में क्लब डिवाइन के ओनर शैंकी भूषण द्वारा बेहतरीन साउंड प्रदान किया जा रहा रहा है,,,लीला में श्री राम के किरदार में उज्जवल मणि त्रिपाठी,लक्ष्मण जी सुमित कुशवाहा, हनुमान जी अतुल चौहान,सुग्रीव जी प्रवीण कपिल,बाली श्री श्याम कश्यप,जामवंत जी गुरमीत,तारा नितेश,बाल अंगद मास्टर मुदित त्रिपाठी, नल जी राहुल,नील जी कपिल,रवि कश्यप,वंश,इच्छा त्रिपाठी आदि द्वारा उत्कृष्ट अभिनय किया जा रहा है,रूप सज्जा हरीश चंद्र जी,भोजन व्यवस्था श्री किशोर व शंकर द्वारा प्रदान की जा रही है। आशुतोष शर्मा ने बताया कि रविवार की लीला लीला में सुग्रीव द्वारा सीता माता का पता लगाने का अपनी सेना को आदेश दिया जाएगा। समुद्र के किनारे पहुंचकर सभी उसको पार करने में असमर्थता जताएंगे जामवंत जी हनुमान भगवान को उनकी शक्ति का एहसास दिलाएंगे। हनुमान समुद्र पार कर लंका पहुंचेंगे, माता सीता का पता लगाएंगे, लंका दहन करेंगे, लौटकर श्री राम को सीता का संदेश सुनाएंगे,जिसमे रामा, रावण दल के सभी स्टार कलाकार आज अपनी प्रतिभागिता दर्ज करवाएं।।