ताजा ख़बरें : हरिद्वार जनपद की ताजा ख़बरें, यहां देखें

पीआरटी परियोजना के संरेखण को लेकर व्यापारियों ने अपत्तियां दर्ज करायी

हरिद्वार। शहर में पीआरटी (पॉड टैक्सी परियोजना) को लेकर व्यापार मण्डल, गंगा सभा व अखाडा परिषद के पदाधिकारियों के साथ मेला नियंत्रण कक्ष हरिद्वार में जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्ंन हुई। बैठक में व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों द्वारा पीआरटी परियोजना के संरेखण को लेकर अपत्तियां दर्ज करायी गयी जबकि गंगा सभा के पदाधिकारियों द्वारा परियोजना के प्रारम्भ स्थल से लेकर अन्त तक की विस्तृत जानकारी को पारदर्शिता के साथ प्रस्तुत करने की बात कही। अखाड़ा परिषद के सदस्य द्वारा पीआरटी के कारण शोभा यात्रा व शाही स्नान में किसी प्रकार की अड़चन नहीं आने की बात कही। जिलाधिकारी ने सभी पक्षों को सुनने के बाद आगामी 11 दिसम्बर को एक बैठक के अयोजन की बात कही, जिसमें सभी पक्षों (स्टैक होल्डर) के अधिकतम दो-दो प्रतिनिधियों की उपस्थिति हीं स्वीकार्य होगी,उन्होंने कहा कि नगर क्षेत्र में तीर्थ यात्रियों की सुविधा व स्थानीय व्यवसायियों के हितों के दृष्टिगत पीआरटी जैसी विकासपरक परियोजनाओं को सभी स्टेक होल्डर की सर्व सहमति और सहभागिता के साथ धरातल पर उतारा जायेगा। बैठक में व्यापार मंण्डल के अध्यक्ष संजीव नैयर, गंगा सभा के अध्यक्ष नितिन गौतम, अखाडा परिषद के सदस्य राम रतन गिरी आदि ने अपनी-अपनी आपत्तियाँ दी। बैठक में हरिद्वार के अधिकारी उपस्थित थे।

तीर्थनगरी के समग्र विकास को तत्पर है भाजपा सरकार: मदन कौशिक

हरिद्वार। पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष,नगर विधायक मदन कौशिक की उपस्थिति में क्षेत्रीय पार्षद अनिरूद्ध भाटी ने वार्ड नं.3 में आद्य शक्ति पब्लिक स्कूल वाली गली,बीएमडीएवी स्कूल-राम भवन पर सीसी मार्ग कार्य व पेचवर्क के कार्य का नारियल फोड़कर शिलान्यास किया। शिलान्यास समारोह के मुख्य अतिथि मदन कौशिक ने कहा कि तीर्थनगरी हरिद्वार के समग्र विकास को केन्द्र व प्रदेश की भाजपा सरकार तत्पर हैं। हरिद्वार को विश्व स्तरीय सुविधाओं सें युक्त करने की दिशा में निरन्तर कार्य चल रहा है। उत्तरी हरिद्वार में चिकित्सालय का निर्माण अंतिम चरण में है तो जगजीतपुर में मेडिकल कॉलेज का कार्य भी तेजी से आगे बढ़ रहा है। विधायक कौशिक ने कहा कि पार्षद के रूप में अनिरूद्ध भाटी ने कर्मठता से अपनी क्षेत्र की सेवा करते हुए विकास कार्यों को धरातल पर उतारा है।
भाजपा पार्षद दल के उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि मदन कौशिक के नेतृत्व व मार्गदर्शन में भाजपा पार्षदों ने अपने-अपने क्षेत्रों में विकास कार्य करवाकर क्षेत्रवासियों को बेहतर सुविधाएं देने का कार्य किया हैं। मण्डल अध्यक्ष तरूण नैयर ने कहा कि मदन कौशिक के नेतृत्व में भाजपा पार्षदों ने अपने-अपने क्षेत्र में विकास कार्यों का कीर्तिमान स्थापित किया हैं। समाजसेवी सुरेन्द्र सिंह रावत व किरणपाल प्रजापति ने कहा कि गली के निर्माण से निश्चित रूप से क्षेत्र की बड़ी आबादी को सुविधा प्राप्त होगी। भाजपा वार्ड अध्यक्ष नीरज शर्मा व प्रमोद पाल ने कहा कि पिछले 5 वर्षों में क्षेत्रीय पार्षद अनिरूद्ध भाटी ने जल भराव की समस्या से क्षेत्र को मुक्ति दिलायी है। पथ प्रकाश व्यवस्था व सड़कों का निर्माण करवाकर वार्ड नं.3 को आदर्श वार्ड बनाया गया है। इस अवसर पर सुरेन्द्र सिंह रावत,किरणपाल प्रजापति,बृजपाल सिंह,सुरेन्द्र चौधरी,शिवम,सुखेन्द्र तोमर,वार्ड अध्यक्ष नीरज शर्मा,पार्षद प्रतिनिधि दिनेश शर्मा,गोपाल अग्रवाल,भूपतवाला व्यापार मण्डल संजय पाल आदि उपस्थित थे।

6 किलो गांजे के साथ एक तस्कर गिरफ्तार

हरिद्वार। नशा तस्करों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर 6 किलो गांजा बरामद किया है। आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकद्मा दर्ज किया गया है। आरोपी ज्वालापुर कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर है और पहले भी कई बार गिरफतार किया जा चुका है। नशा तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए गठित पुलिस टीम ने मुखबिर की सूचना पर कार्रवाई करते हुए रिंकू शर्मा पुत्र पप्पू शर्मा निवासी चक्की वाली गली लाल मंदिर को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 6 किलो गांजा बरामद किया है। आरोपी ज्वालापुर कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर है और पहले भी कई बार गिरफतार किया जा चुका है। पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी विजय सिंह, एसएसआई संतोष सेमवाल, रेल चौकी प्रभारी एसआई देवेंद्र सिंह तोमर, कांस्टेबल गणेश तोमर व संजय रावत शामिल रहे।

विश्व एडस दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन

हरिद्वार। विश्व एडस दिवस के अवसर पर भेल सेक्टर-2 स्थित सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ विद्यालय के वरिष्ठ आचार्य प्रवीण कुमार ने किया। कार्यक्रम में आचार्य मनीष खाली ने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व एड्स दिवस मनाने का उद्देश्य एचआईवी संक्रमण के प्रसार की वजह से होने वाली एड्स महामारी के प्रति जागरूकता बढाना है। उनका शोक मनाना है। सरकार और स्वास्थ्य अधिकारी, ग़ैर सरकारी संगठन एड्स की रोकथाम और नियंत्रण पर काम कर रहे हैं। एड्स का पूरा नाम एक्वायर्ड इम्यूनो डेफिसिएंशी सिंड्रोम है और यह हयूमन इम्यूनो डेफिसिएंशी वायरस की वजह से मानव शरीर में उत्पन्न होता है। शुरूआत में इसे युवाओं से ही जोड़कर देखा जाता था। परन्तु बाद में पता चला कि एचआईवी संक्रमण किसी भी उम्र के व्यक्ति को प्रभावित कर सकता है। वैश्विक स्तर पर इसकी रोकथाम और उपचार पर काम किया जा रहा है। कार्यक्रम में विद्यालय का समस्त स्टाफ उपस्थित थे।

राजकीय महाविद्यालय के एनएसएस स्वयंसेवियों को दी एडस के संबंध जानकारी

हरिद्वार। भूपतवाला स्थित राजकीय महाविद्यालय में विश्व एड्स दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना के अंतर्गत कार्यक्रम का आयोजन कर एनएसएस स्वयंसेवियों को एड्स से बचाव हेतु जानकारी दी गयी। कार्यक्रम में मुख्य अतिथी डा.सत्यनारायण शर्मा ने छात्र-छात्राओं को एडस संबंधी विभिन्न प्रकार की जानकारी दी तथा वसुधैव कुटुंबकम की भावना से प्रेरित होकर सनातन धर्म पर चलकर जीवन व्यापन करने के लिए प्रेरित किया। प्राचार्य प्रो.दिनेश चन्द्र शुक्ल ने अनुशाससित जीवनशैली अपनाने का आह्वान किया। इस अवसर पर समस्त स्वयंसेवियों को अनुशासन में रहकर अपना जीवन जीने की शपथ भी दिलाई गई। कार्यक्रम अधिकारी डा.स्मिता बसेड़ा ने स्वयं सेवियों से एड्स से सम्बंधित जानकारियां सांझा की। इस अवसर पर वरिष्ठ प्राध्यापक प्रो.युवराज, डा.अजय उनियाल, डा. किरन, डा.अर्चना, डा.विशाल, डा.प्रियंका एवं विद्यालय के छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

एडस से बचाव के लिए संयमित जीवन शैली अपनाएं-डा.केपीएस चौहान

हरिद्वार। विश्व एड्स दिवस के अवसर पर इएमए इंडिया के केन्द्रीय कार्यालय बालाजी इंस्टीट्यूट ऑफ अल्टरनेटिव मेडिकल साइंस एंड कैंसर रिसर्च सेंटर अलीपुर बहादराबाद में एड्स से बचाव एवं जागरूकता पर गोष्ठी आयोजित की गई। गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए डा.केपीएस चौहान ने कहा कि प्रति वर्ष एक दिसंबर को एड्स रोग से बचाव एवं जागरूकता लाने के लिए यह दिन मनाया जाता है। सर्व प्रथम 1920 में अफ्रीका में यह बीमारी पायी गयी थी। विश्व में पहला एड्स दिवस 1988 में मनाया गय। डा.चौहान ने बताया कि एड्स को एकवयारड इम्यूनो डैफिसिऐंसी सिंड्रोम कहते है,एचआईवी (हयूमैन इम्यूनो डैफिसिऐंसी वायरस) के संक्रमण से फैलता है। इसमें शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता क्षीण हो जाती है। रोगी का सम्पूर्ण लिम्फेटिक सिस्टम खराब हो जाता है। इसमें रोगी को भूख न लगना,सूखी खांसी,बुखार रहना,कमजोरी,चक्कर,रात्रि में पसीना आना,जी मिचलाना,उल्टी,पतले दस्त होना जिव्हा पर सफेद परत जमना,निगलने में कष्ट,मुह में जख्म, गले में दर्द, सिर दर्द,सूजन, वजन कम होना,त्वचा पर दाने,लिमफनोड में सूजन, लाल चकत्ते होना आदि लक्षण पाए जाते हैं। डा.चौहान ने कहा कि हमें स्वयं तथा समाज को एड्स से बचाना है। इस संक्रमण से बचने के लिए हमें संक्रांमित व्यक्ति के रक्त का आदान प्रदान, संक्रमित सुईं, संक्रमित सैक्स से बचना चाहिए तथा इम्यूनिटी बढ़ाने वाला पौष्टिक आहार लेना चाहिए। ध्यान रहे कि एड्स चुम्बन से, संक्रमित व्यक्ति के साथ भोजन करने से,साथ रहने से नही फैलता है। गोष्ठी में डा.वीएल अलखानिया,डा.ऋचा आर्य,डा.कमलेश शर्मा,डा.एमटी अंसारी,डा.बीबी कुमार,डा.हरबंश सिंह, लक्ष्मी कुशवाहा,शमां परवीन,मंजुला होलकर,हीना कुशवाहा,शिवांगी कल्याण,रूदाक्षी आर्य,विनीत सहगल ,साहिल कश्यप,विकास कुमार,जय प्रकाश,मेनका,यशपाल,मैनपाल,शशिभूषण,रितिका आदि मौजूद रहे।

प्रवीण तोगड़िया ने की राम मंदिर आंदोलन के नायकों को भारत रत्न देने की मांग

हरिद्वार। अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने केंद्र सरकार से राम मंदिर निर्माण के लिए आंदोलन करने वाले नायकों को राष्ट्रीय सम्मान देने की मांग की है। हरिद्वार के स्वामी नारायण आश्रम में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद और राष्ट्रीय बजरंग दल सम्मेलन के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि अशोक सिंघल, बाला साहेब ठाकरे, गौरख पीठाधीश्वर महंत अवैद्यनाथ, अयोध्या के महंत रामचंद्र परमहंस दास, आचार्य गिरीराज किशोर, आचार्य धर्मेन्द्र, एच.थिप्पारेडी जैसे बड़े संतों और नेताओं ने अयोध्या में राम मंदिर आंदोलन का नेतृत्व किया था और कोठारी बंधुओं ने अपने प्राण तक न्यौछावर किए थे। इसलिए उनकी मांग है कि राम मंदिर आंदोलन का नेतृत्व करने वाले नेताओं को भारत रत्न और प्राण न्यौछावर करने वालों को पद्म विभूषण सम्मान मिलना चाहिए। इसके साथ ही प्रवीण तोगड़िया ने मथुरा और काशी वापस लेने के लिए एक्शन प्लान तैयार करने और राम मंदिर आंदोलन की तर्ज पर फिर से आंदोलन करने का ऐलान भी किया। उन्होंने कहा कि मंदिर आंदोलन के दौरान एकत्र धन से ही अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। 1989 में रामशिला पूजन कर अयोध्या भेजने वाले करोड़ों हिंदूओं और कारसेवकों का अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद आभार प्रकट करता है। सम्मेलन के दौरान केंद्रीय उपाध्यक्ष सावित्री चंद,केंद्रीय महामंत्री देवेश उपाध्याय,केंद्रीय मंत्री माला रावत,मनोज साहू, चंद्रसिंह जैन,प्रदीप गौड़,केंद्रीय कोषाध्यक्ष विजय रेड्डी,राष्ट्रीय बजरंग दल के अध्यक्ष मनोज सिंह,महामंत्री रामजी तिवारी,राष्ट्रीय महिला परिषद की अध्यक्ष मुक्ता मकानी,ओजस्वी की अध्यक्ष रजनी ठुकराल,हिंदू हेल्पलाइन के महामंत्री हेमंत त्रिवेदी,उत्तराखण्ड प्रदेश के पदाधिकारी कृष्णा कांडपाल,सुरेंद्र नौटियाल,वीरेंद्र अधिकारी, अनिल भारद्वाज,अशोक गुप्ता, सुभाष जोशी,विजेंद्र सिंह नेगी,कृपाल नेगी,रोशन रावत आदि सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

निर्मल अखाड़े में धूमधाम से मनाया गया गुरूनानक देव का प्रकाश पर्व

गुरूनानक देव ने सामाजिक समरसता, आध्यात्मिक चेतना का दिया संदेश-श्रीमहंत ज्ञानदेव सिंह
हरिद्वार। गुरूनानक देव का 554वां प्रकाश पर्व कनखल स्थित श्री पंचायती अखाड़ा निर्मल में धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान अखाड़े में स्थित गुरूद्वारे में शबद कीर्तन, गुरूवाणी का आयोजन और अरदास की गयी। इस अवसर पर ब्रह्मलीन महंत अमर सिंह की पुण्यतिथि भी मनायी गयी और संत सम्मेलन का आयोजन किया गया। अखाड़े के कोठारी महंत जसविन्दर सिंह महाराज के संयोजन में आयोजित कार्यक्रम में सभी 13अखाड़ों के संतों ने गुरूनानक देव को नमन किया और ब्रह्मलीन महंत अमर सिंह को श्रद्धासुमन अर्पित किए। संत सम्मेलन को संबोधित करते हुए अखाड़े के अध्यक्ष श्रीमहंत ज्ञानदेव सिंह महाराज ने कहा कि गुरूनानक देव ने समाज में आध्यात्मिक चेतना जगाने के साथ ऊंच,नीच जैसी बुराईयों को समाप्त कर समरसता का संदेश दिया। ब्रह्मलीन महंत अमर सिंह को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए उन्होंने कहा कि ब्रह्मलीन महंत अमर सिंह विद्वान संत थे। धर्म के प्रचार प्रसार में उनका योगदान सदैव स्मरणीय रहेगा। महंत बलविंदर सिंह बोरेवाले ने कहा कि सभी को गुरूनानक देव के आदर्शो पर चलने का संकल्प लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि ब्रह्मलीन महंत अमर सिंह ने जीवन पर्यन्त धर्म प्रचार और समाज के कमजोर वर्ग की सेवा करने में योगदान दिया। कोठारी महंत जसविन्दर सिंह ने कहा कि गुरूनानक देव ने अपना पूरा जीवन मानव कल्याण के लिए समर्पित किया और समाज को एकता और भाइचारे की राह दिखायी। संत बाबा सोनी सिंह और महंत कैलाश मुनि ने कहा कि गुरूनानक देव की शिक्षाएं और विचार सदैव प्रासंगिक रहेंगे। सभी को उनकी शिक्षाओं और विचारों का अनुसरण करते हुए धर्म व राष्ट्र सेवा में योगदान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि ब्रह्मलीन महंत अमरसिंह महाराज संत समाज के प्रेरणास्रोत और दिव्य विभूति थे। समाज सेवा में उन्होंने महत्वपूर्ण योगदान दिया। इस अवसर पर महंत अमनदीप सिंह,महंत खेम सिंह,महंत निर्भय सिंह, महंत रघुवीर दास,महंत सूरज दास,स्वामी रविदेव शास्त्री,स्वामी निर्मलदास, महंत राघवेंद्र दास,महंत गोविंददास,महंत हरभजन सिंह,महंत मलकियत सिंह, महंत रंजय सिंह, बीवी विनिंदर कौर सौढ़ी,महंत जनरैल सिंह,स्वामी कपिल मुनि,स्वामी ऋषि रामकृष्ण,महामंडलेश्वर स्वामी ललितानंद गिरी,स्वामी शिवानंद भारती,सतपाल ब्रह्मचारी,समाज सेवी अतुल शर्मा सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।

एचआईवी वायरस के फैलने के कारणों एंव बचाओं के तरीकों दी जानकारी

हरिद्वार। वर्ल्ड एड्स दिवस पर आईटीसी फाउंडेशन ने स्थित सिडकुल पार्किंग में एक कार्यक्रम कर सिडकुल में आने जाने वाले वाहन चालकों को नुक्कड़ नाटक के माध्यम से एड्स-एचआईवी वायरस के फैलने के कारणों और बचाओं के तरीकों के बारे में बताकर जागरूक किया और बताया कि बचाओ ही सुरक्षा है जिससे हम अपने अनमोल जीवन व अपने परिवार परिजनों को बचा सकते है। हमें डॉक्टर के पास जाकर इंजेक्शन लगवाते समय हर बार नई सुई का ही इस्तेमाल करे व कभी भी कही भी की अन्य व्यक्ति के साथ शारीरिक सम्बंधित बनाने के लिये हमेशा प्रोटक्शन का इस्तेमाल करे। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर मनीष दत्त ने कहा कि एड्स के रोगियों को सपोर्ट और साहस देना सरकार तथा समाज दोनों की जिम्मेदारी बनती है। लिहाजा समाज को इस तरह की लाईलाज बीमारी से जूझ रहे व्यक्तियों को हर प्रकार की मदद करने के लिये आगे आना चाहिए। इस अवसर पर जिला नोडल अधिकारी डॉक्टर आरके सिंह, एचआईवी एड्स, क्लस्टर प्रोग्राम मैनेजर डॉक्टर हेमन्त खडक्वाल,अवनीश टीवी एचआईवी सुपरवाइजर,दीपक डेटा मैनेजर व दिशा यूनिट से हेमन्त खण्डेलवाल व किरण असवाल, शेखर सैनी, होमयोपैथिक डॉ. ओ.पी नौटियाल प्रभारी,पुष्कर सिंह,मनोज चौहान,सिडकुल पार्किग के व्यवस्थापक नवनीत, ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन सुरेश शर्मा,सुभाष,सरबजीत,जसविन्दर एवं एवं उत्तराखण्ड एड्स कंट्रोल के अर्न्तगत कार्यरत संस्था के प्रोगाम मैनेजर टीसीआई गीता बिष्ट, (प्रोग्राम मैनेजर) चौखम्बा जेडीयू मोहन सैनी,चौखम्बा माइग्रेन्ट से डिम्पी चौधरी, आदर्श युवा समीति से सौरभ रिया आदि उपस्थित रहे।

संत महापुरुषों का सानिध्य बड़े ही भाग्यशाली लोगों को मिलता है
हरिद्वार। भूपतवाला स्थित श्री कृष्ण हरि धाम ट्रस्ट आश्रम में संत समागम को संबोधित करते हुए श्री महंत1008 स्वामी प्रेमानंद शास्त्री जी महाराज ने कहा तीर्थ नगरी के मठ मंदिर आश्रम अखाड़ो से होने वाला शंखनाद संपूर्ण विश्व में सनातन धर्म की परंपरा को और अधिक मजबूत तथा प्रखर बनाने का कार्य करता है। संत महापुरुषों का सानिध्य बड़े ही भाग्यशाली लोगों को मिलता है। गुरु के बिना ज्ञान संभव नहीं गुरु ही दिए गए ज्ञान के माध्यम से मनुष्य को कल्याण की ओर ले जाने के साथ-साथ उसे भवसागर पार कर देते हैं। गुरु ही ईश्वर तक पहुंचने का मार्ग है गुरु ही मनुष्य को उंगली पड़कर भवसागर पार करते हैं । इस अवसर पर बोलते हुए महामंडलेश्वर स्वामी ललितानंद जी महाराज ने कहा गुरु बिना ज्ञान संभव नहीं गुरु ज्ञान का विशाल सूर्य होते हैं जिनके ज्ञान रूपी प्रकाश में भक्तजन अपना जीवन धन्य कर लेते हैं। इस अवसर पर महंत डॉ हरिहरानंद महाराज, महंत सुतीक्ष्ण मुनि महाराज, महंत विवेकानंद महाराज, महंत रवि देव महाराज, श्री श्याम गिरी महाराज, सरवन दास,वरिष्ठ कोतवाल कालीचरण महाराज सहित भारी संख्या में संत महंत भक्तगण उपस्थित थे।