आज से भारत में तीसरी खुराक का अभियान, जाने कौन लोग ले सकेंगे बूस्टर डोज, क्या है नियम- शर्तें

भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों में भी तेजी देखी जा रही है। कोरोना की तीसरी लहर के बीच आज से यानी सोमवार (10 जनवरी 2022) से भारत सरकार अपने नागरिकों को कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक देने के अभियान की शुरुआत करने जा रही है।

तीन जनवरी से अब तक यानी 9 जनवरी 2022 तक 2.2 करोड़ वैक्सीन की डोज बच्चों को लग चुकी है। वहीं, देश में 15 साल से अधिक उम्र के लोगों को 151.57 करोड़ वैक्सीन की डोज लग चुकी ह। पिछले 24 घंटे के दौरान 89 लाख कोरोना वैक्सीन की डोज लोगों को लगायी गयी अब तीसरी डोज की भी शुरुआत होने जा रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों कहा था कि 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को, जिनमें हार्ट डिजीज, डायबिटीज, किडनी की बीमारी के साथ-साथ अन्य गंभीर बीमारियां हैं, तो उन्हें सबसे पहले प्रिकॉशन डोज दिया जायेगा. हालांकि, स्वास्थ्य मंत्रालय ने सलाह दी है कि अपने डॉक्टर की सलाह पर ही लोग प्रिकॉशन डोज लें। 8 जनवरी से केंद्र सरकार के Co-WIN App पर प्रिकॉशन डोज के लिए पंजीकरण शुरू हो चुका है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश सुरक्षित करने वाली हेल्थ आर्मी की सुरक्षा सरकार सुनिश्चित कर रही है. करीब 1 करोड़ से अधिक हेल्थ वर्कर एवं फ्रंटलाइन वर्कर्स तथा 60+ नागरिकों को उनकी प्रिकॉशन डोज के लिए रिमाइंडर SMS भेजे गये है। COWIN पर अप्वाइंटमेंट पहले से शुरू है। कल से डोज लगाने का कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है।फ्रंटलाइन वर्कर्स (स्वास्थ्यकर्मियों), पुलिसकर्मी और अन्य सरकारी कर्मचारी, और कोमोरबिडिटी ,गंभीर रूप से बीमार लोग, वरिष्ठ नागरिक तीसरी खुराक प्रिकॉशनरी डोज ले सकते हैं.सरकार ने कहा है कि अगर आप प्रिकॉशनरी डोज लेना चाहते हैं, तो डॉक्टर से पहले परामर्श ले लें, लेकिन डॉक्टर के प्रमाण पत्र की कोई अनिवार्यता नहीं है. यानी डॉक्टर के प्रमाण के बगैर भी लोग वैक्सीन की तीसरी खुराक ले सकते हैं। आपने अगर दोनों खुराक ले ली है, तो दूसरी खुराक के नौ महीने बाद ही आपको तीसरी खुराक लेनी चाहिए। इस लिहाज से देखेंगे, तो जिन लोगों ने अप्रैल 2021 के पहले सप्ताह में वैक्सीन की दूसरी खुराक ली थी, वे लोग अब तीसरी खुराक या प्रिकॉशन डोज ले सकते हैं। आपने अब तक जो वैक्सीन लगवायी है, तीसरी डोज में भी वही वैक्सीन लगेगी, यानी अगर आपने कोवैक्सीन की दोनों खुराक ली है, तो तीसरी खुराक भी कोवैक्सीन की ही आपको लगेगी। अगर आपने कोविशील्ड की दोनों खुराक ली है, तो तीसरी खुराक में भी आपको कोविशील्ड ही मिलेगी।

वैज्ञानिक तथ्यों के आधार पर कई रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर दो वैक्सीन को मिक्स करके दिया जाये, तो वैक्सीन की क्षमता बहुत बढ़ जाती है। लेकिन भारत सरकार ने वैक्सीन मिक्सिंग की अनुमति नहीं दी है।

तीसरी खुराक के लिए नये सिरे से Co-Win App पर रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत नहीं है. आप टीकाकरण केंद्र पर जाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं. आप अगर लाइन नहीं लगाना चाहते, तो आप साइट से अप्वाइंटमेंट भी ले सकते हैं.तीसरी खुराक लेने जा रहे हैं, तो अपने साथ वोटर आईडी, आधार कार्ड (Aadhaar Card), पासपोर्ट , ड्राइविंग लाइसेंस , स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मान्यताप्राप्त कोई भी दस्तावेज लेकर वैक्सीनेशन सेंटर पर जायें।

वैक्सीन लेते समय इनमें से कोई एक दस्तावेज दिखाना अनिवार्य है.अगर आप वैक्सीन की तीसरी डोज लेने के लिए किसी सरकारी अस्पताल में जा रहे हैं, तो 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को मुफ्त में टीका लगाया जायेगा(प्र.)