स्वामी यतीश्वरानंद ने किया चार धाम यात्रियों के पहले दल को रवाना

यात्रियों को सारी सुविधाएं उपलब्ध कराने और कोई भी परेशानी ना होने के निर्देश

हरिद्वार। शनिवार को गुजरात से आए श्रद्धालुओं का दल चारधाम यात्रा पर रवाना हुआ। प्रदेश सरकार के प्रतिनिधि के रूप में पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानन्द ने मायादेवी मंदिर प्रांगण से श्रद्धालुओं के जत्थे को चारधाम यात्रा पर रवाना किया। मंगलवार तीन मई से शुरू हो रही चारधाम यात्रा पर रवाना हुए जत्थे में गुजरात के 40 श्रद्धालु शामिल हैं। इस दौरान पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानन्द ने कहा कि चारधाम यात्रा को लेकर सरकार की और से पूरी तैयारी की गयी है। मुख्यमंत्री चारधाम यात्रा को लेकर लगातार बैठक कर रहे हैं। अधिकारियों को यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं को सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने और किसी प्रकार की परेशानी नही होने देने के निर्देश दिए गए हैं। ट्रैवल्स व्यवसायी अभिषेक अहलूवालिया ने प्रदेश सरकार का धन्यवाद करते हुए कहा कि सरकार ने भ्रम की स्थिति को दूर करते हुए आरटीपीसीआर टेस्ट की बाध्यता को समाप्त कर दिया है। जिससे चारधाम यात्रा पर आने वाले यात्रियों को राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि चार धाम के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को सरल किया जाए। व्यापारी नेता आशु शर्मा ने कहा कि सरकार चार धाम यात्रा को लेकर अच्छी व्यवस्थाएं कर रही हैं। पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद ने भी आश्वासन दिया है कि प्रदेश सरकार चार धाम यात्रा में आने वाली सभी बाधाओं को दूर करेगी और यात्रियों को किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो इसका ख्याल रखेगी। चार धाम यात्रा पर रवाना हुए दल में शामिल गुजरात के यात्री हितेश भाई जोशी ने बताया कि वे चैथी बार चारधाम यात्रा पर आए हैं। सरकार द्वारा यात्रा को लेकर की जा रही व्यवस्थाओं से वह और उनका परिवार काफी उत्साहित है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि बिना किसी डर के चार धाम यात्रा करने आएं।