बड़ी खबर: मांगों को लेकर 43 बहुउद्देशीय किसान सेवा सहकारी समितियों में तालाबंदी

15 दिन के भीतर उनकी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो वह दोबारा आंदोलन करने को बाध्य होंगे

हरिद्वार। सहकारी समिति कर्मचारी कल्याण यूनियन के कर्मचारी और पदाधिकारियों ने हरिद्वार जिले में 43 बहुउद्देशीय किसान सेवा सहकारी समितियों में तालाबंदी की। तालाबंदी के बाद कर्मचारियों की रोशनाबाद स्थित एआर कार्यालय में करीब दो घंटे बैठक चली। इसके बाद यूनियन के पदाधिकारियों को जिला सहायक निबंधक अधिकारी ने आश्वासन दिया कि उनकी जायज मांगों को जल्द पूरा किया जाएगा। उधर, यूनियन का कहना है कि अगर 15 दिन के भीतर उनकी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो वह दोबारा आंदोलन करने को बाध्य होंगे। यूनियन से जुड़े कर्मचारी 18 अक्तूबर से कार्यबहिष्कार और कलम बंद हड़ताल पर हैं। यूनियन के अध्यक्ष रामपाल सिंह ने बताया कि गुरुवार को जिले की समस्त बहुउद्देशीय किसान सेवा सहकारी समितियों पर तालाबंदी की गई। यूनियन चार मांगों को लेकर आंदोलन कर रही है। समितियों में नियुक्त कर्मचारियों की नियुक्ति निरस्त न की जाए और समितियों में कार्यरत कर्मचारियों की वरिष्ठता सूची तैयार कर पदोन्नति की जाए। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को सातवां वेतनमान भी नहीं दिया गया है और ही प्रतिनियुक्ति पर कैडर में कार्यरत कर्मचारियों को नियमित रूप से कैडर में समायोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि मांगें पूरी नहीं हुई तो उनका आंदोलन जारी रहेगा।