मुकदमे वापस लेने की मांग को लेकर सैनी समाज ने जिलाधिकारी कार्यालय पर दिया धरना

सैनी समाज के लोगों पर दर्ज मुकद्मे वापस लेने की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री साहब सिंह ने नेतृत्व में समाज के लोगों ने रोशनाबाद स्थित जिला अधिकारी कार्यालय पर सांकेतिक धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान साहब सिंह सैनी ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी दल के कुछ लोग सैनी समाज की एकजुटता को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे है। राजनितिक द्वेष के चलते सैनी समाज के लोगो पर मुकदमा दर्ज किया गया। लेकिन अब सैनी समाज जाग चुका है और राजनितिक दलों के वोट बैंक का शिकार नहीं होगा। सैनी समाज आने वाले चुनावों में ऐसे दलों को सबक सिखाने का काम करेगा। उन्होंने कहा कि नवनियुक्त सीएम हरकी पैड़ी पर आयोजित कार्यक्रम में कोरोना निमयों का खुला उल्लंघन हुआ। इसके अलावा भाजपा व कांग्रेस के कार्यक्रमों में रोजाना कोरोना नियमों का उल्लंघन हो रहा है। लेकिन इस पर प्रशासन मूकदर्शक बना रहता है। लेकिन सैनी समाज द्वारा सामाजिक कार्यक्रम का आयोजन करने पर आयोजकों पर मुकद्मा दर्ज कर दिया गया। उन्होंने कहा कि इसे कतई स्वीकार नहीं किया जाएगा। दर्ज मुकद्मे का तत्काल वापस लिया जाए। गौरतलब है कि हाल ही में फेरूपुर गांव में सैनी समाज के एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसमें यूपी के पूर्व मंत्री साहब सैनी भी सम्मिलित हुए थे। कार्यक्रम के बाद सैनी के समाज के कुछ लोगों के खिलाफ कोविड नियमों के उल्लंघन का मुकद्मा दर्ज किया गया था। आल इण्डिया सैनी सभा के प्रांतीय अध्यक्ष राजकुमार सैनी ने कहा कि आज का धरना सांकेतिक है। यदि दर्ज मुक़दमे वापस नहीं हुए तो हरिद्वार के अलावा राजधानी देहरादून में धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इस दौरान शुभम सैनी, अमित सैनी, जेपी सैनी, सुशील सैनी, यशवंत सैनी, युवा नेता अमित सैनी समेत कई लोग मौजूद रहे।